मीडिया Now - अदार पूनावाला बोले- कुछ दिन में लौटेंगे भारत, फुल स्पीड से हो रहा कोविशील्ड वैक्सीन का उत्पादन 

अदार पूनावाला बोले- कुछ दिन में लौटेंगे भारत, फुल स्पीड से हो रहा कोविशील्ड वैक्सीन का उत्पादन 

medianow 02-05-2021 14:19:39


नई दिल्ली। सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि वह लंदन से कुछ ही​ दिन में देश लौटेंगे और कंपनी के पुणे स्थि​त प्लांट में कोविड के टीके कोविशील्ड का उत्पादन पूरी स्पीड से हो रहा है. पूनावाला ने कहा कि भारत लौटने के बाद वह कोविशील्ड के उत्पादन की समीक्षा करेंगे. गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले अचानक पूनावाला के लंदन चले जाने की खबर आई. वहां द टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में अदार पूनावाला ने यह बयान देकर सबको चौंका दिया है कि उन्हें धमकियां मिल रही हैं.

दिया चौंकाने वाला बयान 
कोविशील्ड वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) ने लंदन पहुंचने के बाद दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्हें भारत में कोरोना वैक्सीन के लिए कई फोन आ रहे थे जिसमें उन्हें प्रभावशाली लोगों से धमकियां मिल रही थीं. उन्होंने कहा कि फोन कॉल्स सबसे बुरी चीज है. मुझे लगातार धमकी भरे फोन आ रहे थे. 

पूनावाला ने कहा, 'ये सभी फोन भारत के प्रभावशाली लोगों की तरफ से आ रहे हैं. कॉल करने वालों में भारतीय राज्यों के मुख्यमंत्री, इंडस्ट्री चैंबर्स के प्रमुख और कई प्रभावशाली हस्तियां शामिल हैं. ये लोग फोन पर कोविशील्ड वैक्सीन की तत्काल आपूर्ति की मांग करते हैं.' उन्होंने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन पाने की उम्मीद और आक्रामकता का लेवल भारी है. हर किसी को यह सबसे पहले चाहिए. वहीं उन्होंने यह भी संकेत दिए हैं कि वो वैक्सीन के निर्माण के विस्तार की योजना के साथ लंदन आए हैं. 

ट्वीट कर दी जानकारी 
इस बीच अदार पूनावाला ने कंपनी के पार्टनर्स और स्टेकहोल्डर्स से ब्रिटेन में मीटिंग की. उन्होंने ट्वीट कर लिखा,'हमारे पार्टनर्स और स्टेकहोल्डर्स के साथ यूके में मीटिंग शानदार रही. पुणे में कोविडशील्ड का उत्पादन जोरों पर है. मैं कुछ दिन में वापस आने पर वैक्सीन उत्पादन की समीक्षा करूंगा.'

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, अदार पूनावाला को सीआरपीएफ की ओर से वाई कैटेगरी की सुरक्षा दी जाने की बात थी. वाई कैटेगरी की सुरक्षा में 11 जवान होते हैं, जिसमें एक या दो कमांडोज और पुलिसकर्मी भी शामिल होते हैं. उन्हें यह सुरक्षा देशभर में प्रदान की गई है.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :