मीडिया Now - ऑक्सीजन की कमी पर सुप्रीम कोर्ट से केंद्र को मिली बड़ी राहत, दिल्ली HC के अवमानना नोटिस पर लगाई रोक

ऑक्सीजन की कमी पर सुप्रीम कोर्ट से केंद्र को मिली बड़ी राहत, दिल्ली HC के अवमानना नोटिस पर लगाई रोक

Administrator 05-05-2021 18:43:16


नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की आपूर्ति के मामले में केंद्र सरकार को आज सुप्रीम कोर्ट से थोड़ी राहत मिली. सुप्रीम कोर्ट ने सप्लाई में को लेकर हाई कोर्ट से जारी अवमानना नोटिस पर रोक लगा दी. लेकिन साथ ही यह भी कहा कि केंद्र आज आधी रात तक दिल्ली में 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई की कोशिश करे. साथ ही कल सुबह 10.30 बजे योजना बताएं कि सप्लाई को सही स्तर पर कैसे बनाए रखा जाएगा.

दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली में ऑक्सीजन की आपूर्ति के मुताबिक न कर पाने के लिए केंद्र को कड़ी फटकार लगाई थी. हाई कोर्ट के जस्टिस विपिन सांघी और रेखा पल्ली की बेंच ने ऑक्सीजन सप्लाई जुड़े अधिकारियों को अवमानना का नोटिस जारी करते हुए व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए कहा था. इससे परेशान केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंची.

केंद्र की अर्ज़ी पर सुनवाई के लिए विशेष रूप से बैठे सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और एम आर शाह की बेंच ने माना कि इस समय देश में अभूतपूर्व स्थिति है. केंद्र और दिल्ली के अधिकारी अपनी तरफ से पूरा प्रयास कर रहे हैं. किसी को जेल भेज देने से समस्या हल नहीं होगी. यह समय मिल-जुलकर इस संकट से लड़ने का है.

जजों ने पिछले 3 दिन से दिल्ली में की गई ऑक्सीजन की सप्लाई का ब्यौरा लिया. सॉलिसीटर जनरल के बाद उद्योग मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव ने भी कोर्ट को जानकारी दी. उन्होंने बताया कि देश में अब पर्याप्त ऑक्सीजन है. लेकिन टैंकर का अभाव है. इस पर कोर्ट ने कहा कि जब तक यह समस्या दूर नहीं हो जाती,  रोजाना 150 मीट्रिक टन ऑक्सीजन विदेश से आयात करने पर विचार होना चाहिए.

सुनवाई के दौरान जजों ने मुंबई में कोरोना से निपटने के लिये किये गए प्रयास की सराहना की. सॉलिसीटर जनरल मेहता ने भी इससे सहमति जताते हुए कहा कि जब मुंबई में कोविड के 92 हज़ार मरीज थे, तब भी ऑक्सीजन की मांग 275 मीट्रिक टन ही थी. मेहता ने सुझाव दिया कि दिल्ली में ऑक्सीजन की ज़रूरत और मैनेजमेंट पर अध्ययन के लिए निष्पक्ष विशेषज्ञों की एक टीम बनानी चाहिए.

कोर्ट ने इस पर विचार का संकेत देते हुए कहा कि सभी वकील विशेषज्ञों के नाम सुझाएं. कोर्ट ने यह भी कहा कि दिल्ली और केंद्र के अधिकारी मुंबई के अधिकारियों से बात कर उनके अनुभव से फायदा उठाएं.

सुनवाई के अंत में जजों ने दिल्ली हाई कोर्ट के अवमानना नोटिस पर रोक लगा दी. कल सुबह 10.30 पर कोर्ट में थोड़ी देर सुनवाई होगी. आज कोर्ट को बताया गया था कि दोपहर तक दिल्ली में 351 मीट्रिक टन ऑक्सीजन पहुंचा. कल कोर्ट यह जानकारी लेगा कि आज देर रात तक कितनी सप्लाई दिल्ली को मिली. साथ ही बेहतर सप्लाई के लिए क्या ठोस कदम उठाए जा रहे हैं.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :