मीडिया Now - देवस्थानम बोर्ड का 12 सदस्यीय दल पहुँचा केदारनाथ, श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति नहींः आयुक्त रविनाथ रमन

देवस्थानम बोर्ड का 12 सदस्यीय दल पहुँचा केदारनाथ, श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति नहींः आयुक्त रविनाथ रमन

medianow 07-05-2021 12:11:35


रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम के कपाट खुलने से पूर्व मंदिर में यात्रा व्यवस्था जुटाने को लेकर देवस्थानम् बोर्ड का 12 सदस्यीय दल गुरुवार प्रातः ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ से केदारनाथ के लिए रवाना हुआ। दल देर सांय को केदारनाथ पहुंच गया था। पर्यटन से जुड़े सभी व्यवसाई सरकार के इस फैसले से नाखुश हैं क्योंकि सरकार के द्वारा ने तो पिछले साल और ना ही इस साल किसी तरह की कोई मदद नहीं की गई है।

राहत पैकेज की मांग कर रहे पर्यटन व्यवसाई सरकार की ओर देख रहे हैं केंद्र सरकार की गाइडलाइन के साथ अगर यात्रा को परमिशन दे दी जाती तो शायद कुछ राहत कि सांस लेते पर्यटन व्यवसाई देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बीडी सिंह के नेतृत्व में देवस्थानम बोर्ड का अग्रिम दल केदारनाथ मन्दिर में पेयजल, विद्युत, बर्फ हटाने का कार्य, साफ सफाई, सेनिटाईजेशन, रावल एवं पुजारी आवास निर्माण प्रगति के कार्यों का अवलोकन करेगा।

गढ़वाल आयुक्त एवं उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन ने बताया कि सरकार के निर्देश पर कोरोना महामारी को देखते हुए चारधाम यात्रा पूर्णतः स्थगित है। केवल सांकेतिक रूप से धामों के कपाट खोले जाने हैं। कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए केवल राॅवल, पुजारी एवं संबंधित हकहकूकधारियों के चुनिंदा प्रतिनिधि धामों में जायेंगे।

देवस्थानम बोर्ड के कार्याधिकारी एनपी जमलोकी ने बताया कि अग्रिम दल में सहायक अभियंता गिरीश देवली, भंडार प्रभारी उमेश शुक्ला, अवर अभियंता विपिन कुमार सहित विद्युत कर्मी, प्लंबर और सात स्वयंसेवक शामिल हैं, जो देर सांय को केदारनाथ पहुंच गए थे।

इस अवसर पर वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी राजकुमार नौटियाल, प्रबंधक अरविंद शुक्ला, पुष्कर रावत, प्रेमसिंह रावत, पुजारी शिवशंकर लिंग, विदेश शैव भी मौजूद रहे। देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डाॅ हरीश गौड़ ने बताया कि ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग भगवान केदारनाथ के कपाट 17 मई सुबह पांच बजे खुल रहे हैं।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :