मीडिया Now - उत्तर प्रदेश को क्या हो गया है?

उत्तर प्रदेश को क्या हो गया है?

medianow 10-05-2021 12:01:24


पंकज चतुर्वेदी / उत्तर प्रदेश को क्या हो गया है? पिछले हफ्ते ही यहां लोनी में इस्तेमाल किये गए दस्तानों को फिर से पैक कर बेचने का मामला सामने आया था। ऐसे संक्रमित दस्ताने यदि ऑपरेशन में इस्तेमाल हों तो सबसे ताकतवर एंटीबायोटिक का असफल होना तय है। बागपत से तो नीचपन की पराकाष्ठा सामने आयी है।  प्रदेश के बागपत में बेहर शर्मनाक घटना सामने आई है। बड़ैत पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने शवों से कफन चोरी करके दोबारा मंहगे दामों में बेचने वाले गिरोह पकड़ा है। पुलिस ने मास्‍टमाइंड समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। ये श्‍मशान से शव के ऊपर से कफन को लाकर उसे धोकर, प्रेस करके फिर दुकान में दोबारा बेच देते थे।

पुलिस ने श्मशान घाट से मुर्दों के कफन चोर गिरोह का राजफाश करते हुए सात आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित रात के समय श्मशान घाट से कफन और दूसरे कपड़े चोरी कर ले आते थे और उसके बाद उनकी धुलाई कराकर उन पर ग्वालियर कंपनी के स्टीकर लगा देते थे। कफन एकदम नया दिखा, इसलिए लिए रिबन और स्टीकर लगाकर पैकिंग कर देत थे। उसके बाद बाजार में बेच देते थे। इनमें कई कफन और कपड़े कोरोना पाजिटिव लोगों के होते थे।

सीओ आलोक सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने प्रवीण कुमार जैन पुत्र श्रीपाल जैन, नई मंडी, बड़ौत, इनके बेटे आशीष जैन उर्फ उदित जैन, भतीजे ऋषभ जैन पुत्र अरविंद जैन, श्रवण कुमार शर्मा पुत्र राममोहन शर्मा निवासी शबगा, छपरौली, राजू शर्मा पुत्र ईश्वर शर्मा निवासी फूंस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत, बबलू पुत्र वेदप्रकाश कश्यप निवासी गुराना रोड, बड़ौत और शाहरूख खान पुत्र मोबीन निवासी फूंस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत को गिरफ्तार कर लिया है। यूपी में नकली इंजेक्शन, अस्पतालों में कफ़न घसोटी , गांवों में लापरवाही, उजड्डता, गुंडागर्दी, पुलिस में उतनी ही अराजकता--- यह क्या हाल हो गया देश को सर्वाधिक प्रधानमंत्री देने वाले राज्य का। सामाजिक, नैतिक सब कुछ तानाबाना भंग.
- लेखक एक वरिष्ठ पत्रकार हैं

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :