मीडिया Now - आरबीआई से सरकार ने 99,122 करोड़ रुपये लिए

आरबीआई से सरकार ने 99,122 करोड़ रुपये लिए

medianow 23-05-2021 14:55:54


लक्ष्मी प्रताप सिंह / रोने धोने की एक्टिंग के नीचे खबर दबा दी कि RBI के पास से 99,122 करोड़ का अरिरिक्त फंड मोदी सरकार को दिया जायेगा। ध्यान रहे कोरोना में पैकेज के नाम पर लोन दिए गए थे और मोरिटोरियम में जानता को एक रुपया की छूट नहीं दी गयी थी जबकि RBI अतिरिक्त फंड यानी जरुरत से ज्यादा कमा रहा था। इस खबर के दो और पहलू भी हैँ की जब बैंक दिवालिया होने की कगार पर हैं तो सरकार उन्हें मर्ज कर रही हैं या LIC में रखा जनता का पैसा लगा रही हैं जबकि जिस सेन्ट्रल बैंक RBI की जिम्मेदारी हैं वो अतिरिक्त फंड रख के बैठा है। मतलब सरकार RBI का पैसा खुद लेकर बैंको में जनता का पैसा लगा रही है।

Repo Rate यानी पुरखरीद दर वो दर होतीं हैं जिसपे बैंक RBI से पैसा लेके उसका ब्याज चुकाते हैँ। यदि RBI रेपो रेट गिरा दे तो बैंक जानता और कंपनियों को देने वाले लोन की दर गिर जाएगी और देश में आर्थिक गतिविधियां बढ़ जाएगी। कोरोना के बाद अर्थवयवस्था जल्दी पटरी पर लौट आएगी। ऐसे निर्णयों ने भारत में बेरोजगारी -गरीबी-भुखमरी बढ़ेगी।

2019 में 36% कम्पनियाँ बंद हुईं, अकेले कोरोना काल के बाद 6.8 लाख कम्पनियाँ बंद हुईं और कुल 12.2 लाख कंपनियों ने धंधा बंद कर दिया। ऐसी कंपनियों में करीब 4-6 करोड़ लोग काम कर रहें थे जो बेरोजगार हो गए। लेकिन मोदी सरकार के लिए जानता और देश की अर्थव्यवस्था बिलकुल महत्वपूर्ण नहीं हैं उन्हें बस आने वाले यूपी चुनाव की तैयारी करनी हैं।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :