मीडिया Now - टूलकिट विवाद: दिल्ली पुलिस ने ट्विटर को भेजा नोटिस, भड़के राहुल गांधी, कहा- सत्य डरता नहीं

टूलकिट विवाद: दिल्ली पुलिस ने ट्विटर को भेजा नोटिस, भड़के राहुल गांधी, कहा- सत्य डरता नहीं

medianow 25-05-2021 15:13:55


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कथित ‘कोविड टूलकिट’ मामले में दिल्ली पुलिस की ओर से माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के कार्यालयों पर छापा मारे जाने के एक दिन बाद मंगलवार को कहा कि सत्य डरता नहीं है. उन्होंने ‘हैशटैग टूलकिट’ के साथ ट्वीट किया, ‘‘सत्य डरता नहीं.’’ गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की टीम ने कथित ‘कोविड टूलकिट’ मामले की जांच के संबंध में ट्विटर इंडिया के दिल्ली और गुरुग्राम स्थित ऑफिस पर सोमवार की शाम छापा मारा.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि स्पेशल सेल ने कथित ‘कोविड-19 टूलकिट’ संबंधी शिकायत को लेकर ट्विटर को नोटिस भेजा और बीजेपी नेता संबित पात्रा के ट्वीट को ‘छेड़छाड़ किया हुआ’ बताने को लेकर माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट से स्पष्टीकरण मांगा था. पिछले सप्ताह ट्विटर ने कथित 'टूलकिट' से संबंधित पात्रा के ट्वीट को ‘‘छेड़छाड़ किया हुआ’’ बताया था.

बीजेपी का आरोप है कि कांग्रेस ने एक टूलकिट बनाकर कोरोना वायरस के नए स्वरूप को 'भारतीय स्वरूप' या 'मोदी स्वरूप' बताया और देश तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छवि खराब करने का प्रयास किया. हालांकि, कांग्रेस ने आरोपों को खारिज करते हुए दावा किया था कि बीजेपी उसे बदनाम करने के लिये फर्जी 'टूलकिट' का सहारा ले रही है. कांग्रेस ने बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ पुलिस में ‘जालसाजी’ का मामला भी दर्ज कराया है.

दिल्ली पुलिस का ट्विटर इंडिया को नोटिस
दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने कथित कोविड-19 'टूलकिट' के संदर्भ में दर्ज शिकायत की जांच के संबंध में ट्विटर को नोटिस भेजकर उससे बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा के ट्वीट को 'मैनिपुलेटिव' बताने पर स्पष्टीकरण मांगा है. एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. पुलिस की दो टीम शाम के समय दिल्ली के लाडो सराय ओर गुरुग्राम में ट्विटर के कार्यालय भी पहुंची.

दिल्ली पुलिस के जन संपर्क अधिकारी चिन्मय बिस्वाल ने बताया, ‘‘दिल्ली पुलिस की टीमें सामान्य प्रक्रिया के तहत ट्विटर इंडिया को नोटिस देने के लिए उसके दफ्तरों में गयी थीं. इसकी जरुरत इसलिए पड़ी क्योंकि वे जानना चाहते थे कि नोटिस देने के लिए सही व्यक्ति कौन है क्योंकि ट्विटर इंडिया के एमडी की ओर से मिला जवाब बिलकुल सटीक नहीं था.’’

बीजेपी ने टूलकिट के जरिए क्या आरोप लगाए हैं
बीजेपी का आरोप है कि कांग्रेस ने एक टूलकिट बनाकर कोरोना वायरस के नए स्वरूप को 'भारतीय स्वरूप' या 'मोदी स्वरूप' बताया और देश तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छवि खराब करने का प्रयास किया. हालांकि, कांग्रेस ने आरोपों को खारिज करते हुए दावा किया कि बीजेपी उसे बदनाम करने के लिये फर्जी 'टूलकिट' का सहारा ले रही है. पिछले सप्ताह ट्विटर ने कथित 'टूलकिट' से संबंधित पात्रा के ट्वीट को 'मैनिपुलेटिड' यानी हेर-फेर किया हुआ बताया था.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :