मीडिया Now - बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी इस तारीख से पहले बांदा जेल में होंगे शिफ्ट, पंजाब सरकार ने भेजा हैंडओवर पत्र

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी इस तारीख से पहले बांदा जेल में होंगे शिफ्ट, पंजाब सरकार ने भेजा हैंडओवर पत्र

medianow 04-04-2021 21:18:40


लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजनीति में लम्बे समय से बड़ी हलचल मचाने वाले बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की जल्दी ही घर वापसी यानी पंजाब से उत्तर प्रदेश वापसी होगी। पंजाब की रोपड़ जेल में लम्बे समय से बंद मुख्तार अंसारी को सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद उत्तर प्रदेश वापस लाया जा रहा है। पंजाब सरकार के तमाम जतन के बाद भी मुख्तार अंसारी का प्रयास असफल हो गया। पंजाब सरकार का पत्र अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को मिला है। पत्र में मुख्तार अंसारी को आठ अप्रैल से पहले उत्तर प्रदेश सरकार को हैंडओवर करने का जिक्र है। मऊ से बहुजन समाज पार्टी के विधायक बाहुबली मुख़्तार अंसारी की कस्टडी हस्तांतरण को लेकर पंजाब सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखा है।

बाहुबली मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में रखा जाएगा। वहां पर भी सुरक्षा के इंतजाम काफी सख्त कर दिए गए हैं। बांदा जेल के बाहर दो पुलिस चौकी बनाई गई है, जहां पर पीएसी की बटालियन को तैनात किया गया है। पंजाब सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह ने उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को पत्र लिखा है। जिसमें मुख्तार अंसारी का हैंडओवर आठ अप्रैल से पहले लेने का निर्देश है। पंजाब के रोपड़ जिला के रूपनगर जेल में बंद मुख्तार अंसारी को आठ अप्रैल से पहले से उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपा जाएगा। बांदा जेल में शिफ्ट होने के बाद मुख्तार अंसारी पंजाब के केस में 12 अप्रैल की सुनवाई में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश होगा।

पंजाब सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह ने अपने पत्र में मुख्तार अंसारी के खराब स्वास्थ्य कारणों का भी हवाला दिया है। पत्र में लिखा गया है कि मुख्तार अंसारी का हैंडओवर लेने के दौरान विधिवत सुरक्षा और मेडिकल व्यवस्था करें। मुख्तार के टेकओवर के दौरान अच्छे वाहन का बंदोबस्त करने के साथ ही अंसारी की मेडिकल रिपोर्ट का भी ध्यान रखा जाए। इसके साथ ही पत्र में लिखा गया है कि 12 को मोहाली कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी के समय भी जेल में पुख्ता व्यवस्था करें।

पंजाब पुलिस लाएगी बांदा
बाहुबली मुख्तार अंसारी उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में पंजाब पुलिस की अभिरक्षा में ही आएगा। उत्तर प्रदेश पुलिस उसको पंजाब के रोड़ से लाने की कोई तैयारी नहीं कर रही है। मुख्तार को यूपी वापस भेजने की जो समय सीमा सुप्रीम कोर्ट ने तय की है, उसके मुताबिक कार्रवाई पंजाब पुलिस को करनी है। इस कारण यूपी पुलिस ऐसा कोई विशेष दस्ता नहीं बना रही है, जो उसे लेने पंजाब जाएगा। पंजाब पुलिस ही उसे अपनी अभिरक्षा में लाकर बांदा जेल में दाखिल करेगी। मुख्तार अंसारी को बांदा जेल से पंजाब के रोपड़ जिले की जेल में ले जाया गया था। मुख्तार से संबंधित मुकदमे की सुनवाई प्रयागराज के एमपी-एमएए कोर्ट में चल रही है।

क्यों बांदा से पंजाब शिफ्ट किया गया मुख्तार
उत्तर प्रदेश में दर्जन भर से अधिक गंभीर अपराध में वांछित बसपा विधायक मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश के बांदा जेल से पंजाब के रोपड़ जिले के रूपनगर जेल में पंजाब का एक मामला भी बेहद गंभीर होने के कारण भेजा गया। आठ जनवरी 2019 को मोहाली के बड़े बिल्डर की शिकायत पर वहां की पुलिस ने अंसारी के खिलाफ 10 करोड़ की फिरौती मांगने का केस दर्ज किया था। इस मामले में पुलिस 12 जनवरी को प्रोडक्शन वारंट हासिल करने के लिए कोर्ट पहुंची। 21 जनवरी 2019 को मोहाली पुलिस मुख्तार अंसारी को प्रोडक्शन वारंट पर उत्तर प्रदेश से मोहाली ले आई। 22 जनवरी को कोर्ट ने उसे एक दिन की रिमांड पर भेज दिया। 24 जनवरी को उसे न्यायिक हिरासत में रोपड़ जेल भेज दिया गया।

उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम इसके बाद आठ बार मुख्तार अंसारी की रिमांड लेने पंजाब के रोपड़ जिले गई थी। इसके बाद हर बार सेहत, सुरक्षा व कोरोना संक्रमण का कारण बताकर पंजाब पुलिस ने उसको उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपने से इन्कार कर दिया। पंजाब पुलिस डॉक्टर की सलाह का हवाला देती रही कि अंसारी को डिप्रेशन, शुगर, रीढ़ की बीमारियां हैं। उसे कहीं और शिफ्ट करना ठीक नहीं है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :