मीडिया Now - पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने किया देश व्यापी धरना प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने किया देश व्यापी धरना प्रदर्शन

medianow 11-06-2021 19:17:34


लखनऊ। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम व आवश्यक उपभोक्त वस्तुओं के लगातार बढ़ रहे बेतहाशा दामों के विरोध में भाजपा सरकार के विरुद्ध पूरे उत्तर प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ब्लाक मुख्यालय से लेकर जिला मुख्यालय तक सड़क पर उतरकर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया, पूरे प्रदेश में हजारों कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी हुई। लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने पहले हाउस अरेस्ट किया लेकिन उन्होनंे प्रदेश सरकार को चुनौती देते हुए अपने आवास के बाहर एकत्रित सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन के लिए सड़क पर उतर आयें जिससे घबराई सरकार के इशारे पर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री लल्लू ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अस्थाई जेल में सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली जनविरोधी सरकार द्वारा चन्द उघोगपति मित्रों को लाभ पहंुचाने व पेट्रोल व डीजल पर भारी भरकम टैक्स लगाकर देशवासियों को मंहगाई की मार झेलने के लिए विवश कर दिया है। एक तरफ कोरोना महामारी से समाप्त हुए रोजगार और दूसरी तरफ भाजपा सरकार निर्मित मंहगाई प्रदेश व देशवासियांे की दुश्मन बन चुके हैं। लगातार पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि से आम जनमानस की जेब पर डाका डाला जा रहा है। खाद्य पदार्थों से लेकर तेल के भाव भी आसमान छू रहे हैं, पेट्रोल 100 रुपया लीटर व सरसों का तेल 220 रुपये लीटर की सीमा पार कर गया है।

उन्होनें कहा कि जब मोदी सरकार ने मई 2014 में सत्ता संभाली तो अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का रेट न्ैक् 108 रुपये प्रति बैरल था, देश में पेट्रोल की कीमत 71.51 रुपये प्रति लीटर व डीजल की कीमत 55.49 रुपये प्रति लीटर थी, मोदी सरकार ने पेट्रोल व डीजल पर अनाप-शनाप टैक्स लगाकर सात साल में जनता की जेब लूटकर 2.94 लाख करोड़ रुपये कमाये। पिछले सात सालों में कच्चे तेल की कीमत अमेरिकी डाॅलर 20-65 के बीच रही- पर पेट्रोल की कीमत साल 2014 में 71.51 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 95 प्रति लीटर व कई प्रान्तांे में 101.89 रुपये प्रति लीटर हो गयी। डीजल की कीमत 2014 में 55.49 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 85 रुपये प्रति लीटर हो गयी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि देश में लगातार बढ़ती हुई मंहगाई के साथ-साथ रसोई गैस की  कीमतों में बेतहाशा वृद्धि से आम जनमानस की कमर टूट चुकी है, सरकार जनता के धन का अपव्यय कर छवि बनाने का प्रयास कर रही है वहीं मंहगाई की मार से तड़पती जनता को राहत देने का उसकी तरफ से कोई प्रयास नही हो रहा है, रसोई गैस के दाम 900 रुपये पार पहुंच गये हैं और सरकार के द्वारा सब्सिडी देने का झूठा नाटक किया जा रहा है। गरीब व मध्यम वर्गीय परिवार के लोगों की सब्सिडी पर भी सरकार के द्वारा डाका डाला गया है।

आज के प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू व राजेश तिवारी मंत्री छग सरकार दीपक सिंह-एमएलसी सहित प्रदेश उपाध्यक्ष  वीरेन्द्र चैधरी, विश्वविजय सिंह, श्याम किशोर शुक्ला, सिद्धार्थप्रिय श्रीवास्तव, दिनेश सिंह, पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश चेयरमैन मनोज यादव, शाहनवाज मंगल, राहुल राजभर, अशोक सिंह, वीरेन्द्र मदान, विकास श्रीवास्तव, अनस रहमान, जिलाध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, शहर अध्यक्ष उत्तर अजय श्रीवास्तव, शहर अध्यक्ष दिलप्रित सिंह, अनुसूईया शर्मा, सुशीला शर्मा, राजेश सिंह काली, केके शुक्ला, जेएन श्रीवास्तव, आर्यन मिश्रा, राजेन्द्र पाण्डेय, नरेन्द्र गौतम, परवेज मंसूरी, सचिन शिल्पकार, कर्नल ओपी चैबे, शिवम त्रिपाठी, शंकर यादव, शमीम कुरैशी, विनोद यादव, अंकित सक्सेना आदि प्रमुख रुप से थे जिन्हे पुलिस ने गिरफ्तार किया।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :