मीडिया Now - कोरोना वैक्सीन के चलते देश में बची हज़ारों जानें, स्टडी में सामने आई ये अहम जानकारियां

कोरोना वैक्सीन के चलते देश में बची हज़ारों जानें, स्टडी में सामने आई ये अहम जानकारियां

medianow 18-06-2021 18:06:06


नई दिल्ली। देश के हेल्थकेयर वर्कर्स पर की गई एक स्टडी में कोरोना संक्रमण के शिकार होने के बाद मरीज़ की स्थिति को लेकर कई अहम जानकारियां सामने आई हैं. इस स्टडी से पता चलता है कि कोरोना के टीके की वजह से भारत में हज़ारों जानें बची हैं. दरअसल हेल्थकेयर वर्कर्स सबसे ज्यादा खतरे वाली जगहों पर काम करते हैं, जहां उन्हें सीधे सीधे संक्रमण का खतरा बना रहता है. ऐसे में टीकाकरण करवा चुके हेल्थकेयर वर्कर्स पर की गई स्टडी के आंकड़े राहत देने वाले हैं. 

नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य वीके पॉल ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि स्टडी बताती है कि वैक्सीन लगने के बाद अगर संक्रमण हो जाए तो 75 से 80 फीसदी लोगों को अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ती है. इसके अलावा ऐसे 8 फीसदी लोगों को ही ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है. आईसीयू में सिर्फ 6 फीसदी लोगों के जाने की नौतब आती है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, "पिछले 24 घंटे में देश में 62 हज़ार 480 नए मामले सामने आए हैं. पिछले 11 दिनों से एक लाख से कम मामले रिपोर्ट हो रहे हैं. कोरोना संक्रमण के मामलों के पीक में 85 फीसदी की कमी देखी गई है." उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 7 लाख 98 हज़ार 656 हो गई है. पिछले 3 दिनों में सक्रिय मामलों में 1 लाख 14,000 की कमी आई है. अब रिकवरी दर बढ़कर 96 फीसदी हो गई है. हम हर रोज़ 18.4 लाख कोरोना टेस्ट कर रहे हैं. 

देश में टीकाकरण की रफ्तार कैसी?
स्वास्थ्य मंत्रालय के गुरुवार के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस रोधी टीके की 26.86 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं, जिनमें 18-44 आयु वर्ग के लोगों को दी गई पांच करोड़ खुराकें शामिल हैं. मंत्रालय ने कहा कि गुरुवार को 18-44 आयु वर्ग के 18 लाख 94 हज़ार 803 लाभार्थियों को पहली खुराक, जबकि 88 हज़ार 17 को दूसरी खुराक दी गई. देशभर में टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत के बाद से उक्त आयु वर्ग के कुल 4 करोड़ 93 लाख 56 हज़ार 276 लोगों को पहली खुराक और 10 लाख 58 हज़ार 514 को दूसरी खुराक दी गई है. 

बिहार, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, ओडिशा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में से प्रत्येक ने 18-44 आयु वर्ग के 10 लाख से अधिक लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक दी गई है. गुरुवार शाम सात बजे तक जारी अस्थायी रिपोर्ट के अनुसार, देश में दी गई कोविड-19 टीके की खुराक की कुल संख्या 26 करोड़ 86 लाख 65 हज़ार 914 हो गई. मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण अभियान के 153वें दिन टीके की कुल 29 लाख 64 हज़ार 596 खुराक दी गईं. इसमें से 25 लाख 81 हज़ार 421 लाभार्थियों को पहली खुराक और 3 लाख 83 हज़ार 175 को दूसरी खुराक दी गई.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :