मीडिया Now - उत्तराखंड: हाईकोर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सरकार के दावों को बताया झूठा, कहा-जब बच्चे मरने लगेंगे तब होगी तैयारी?

उत्तराखंड: हाईकोर्ट ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सरकार के दावों को बताया झूठा, कहा-जब बच्चे मरने लगेंगे तब होगी तैयारी?

medianow 23-06-2021 21:03:44


नैनीताल। उत्तराखंड में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर उत्तराखंड सरकार की तैयारियों को लेकर हाईकोर्ट नाखुश है। कोर्ट ने सरकार के एंबुलेंस सहित अन्य दावों को भी झूठ करार दिया। कहा कि अब हमें मूर्ख न बनाएं। मत बताइये कि उत्तराखंड में रामराज्य है और हम स्वर्ग में रहते हैं। आप रोडवेज के ड्राइवर्स-कंडक्टर्स को पांच महीने से सेलरी नहीं दे पा रहे हैं। आप पर्याप्त एंबुलेंस की बात करते हैं, लेकिन खबरें आती हैं कि पहाड़ों में गर्भवती महिलाओं को एंबुलेंस नहीं मिलती है और पालकी से ले जाना पड़ता है। हमें मूर्ख बनाना बंद करिए हकीकत हमें पता है।

कोर्ट ने उत्तराखंड से स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी को कड़ी फटकार लगाई। नैनीताल हाईकोर्ट ने कहा डेल्टा वैरिएंट एक महीने में पूरे देश में फैल गया था और डेल्टा प्लस वैरिएंट को फैलने में तीन महीने भी नहीं लगेंगे। ऐसे में हमारे बच्चों को बचाने के लिए आप लोग क्या कर रहे हैं। आप सोच रहे हैं कि डेल्टा प्लस वैरियंट आपकी तैयारियां पूरी होने का इंतजार करेगा।

बुधवार को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति आरएस चौहान व न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खंडपीठ में अधिवक्ता दुष्यंत मैनाली, सचिदानंद डबराल, अनू पंत, रवीन्‍द्र जुगरान, डीके जोशी व अन्य की अलग-अलग जनहित याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई हुई। कोर्ट ने स्वास्थ्य सचिव के तीसरी लहर को लेकर बच्चों के लिए तीन महीने तक विटामिन सी और जिंक आदि की दवाएं देने की दलील पर तीखी फटकार लगाई।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :