मीडिया Now - सोशल मीडिया ट्रोलिंग और पर्सनल अटैक कैसे हैंडल करें?

सोशल मीडिया ट्रोलिंग और पर्सनल अटैक कैसे हैंडल करें?

medianow 24-06-2021 15:18:42


श्याम मीरा सिंह

1. सबसे पहला और अंतिम सुझाव- Ignore

2. जब भी आप, आप पर किया गया पोस्ट या कमेंट पढ़ें, कभी भी रीऐक्ट न करें, और ऐसे पोस्ट या कमेंट को “लव” रीऐक्ट करके ओवरस्मार्ट न बनें.

3. अगर कोई पर्सनल अटैक करता है, निजी चीजों पर टिप्पणी करता है तो एकदम जवाब न दें.. जितना कोशिश हो सके उस वक्त मोबाइल दूर कर दें..  थोड़ा सा कहीं घूम आएँ.. कुछ अच्छा सा ड्रिंक कर लें, जैसे कोल्ड ड्रिंक, नींबू पानी..

4. ऐसे लोग जो किसी के द्वारा आपको नीचा दिखाने के काम में इंट्रेस्ट लेते हैं, उन् सभी को तुरंत सोशल मीडिया से हटा दें ये न देखें कि वो आपके जूनियर हैं, सीनियर हैं, ऑफ़िस में आपके बॉस हैं या दस साल पुराने दोस्त हैं.. 

5. जिस चीज़ से एँगजाईटी आए उसे निर्ममता के साथ अपने आप से दूर कर दें. जैसे कोई आपको सलाह दे (जो बेहद आवश्यक हो सकती है) और साथ ही आपको ख़राब फ़ील कराए, आप Demotivated फ़ील करें, ऐसे कितने भी पुराने दोस्त को तुरंत कहें कि वो अपनी सलाह अपने पास रखें.. और आप जैसे हैं वैसे रहने दे, और उन्हें चेतावनी भी दें कि ऐसी सलाह जो आपको परेशान कर सकती है, ऐसी सलाह वे न दें.. अगर देंगे तो आप उनसे अगली मिनट दोस्ती तोड़ेंगे, बिना ये देखे कि उनसे आपकी कितनी पुरानी दोस्ती है, बिना ये देखे कि कल ही तो उसने आपकी मदद की है. मदद अलग चीज़ है, दोस्ती अलग चीज़ है और ऐसी सलाहें अलग चीज़ हैं, जो सलाह आपको नीचा दिखाना चाह रही है वो सलाह सलाह के रूप में आपके दोस्त के द्वारा किया गया उपहास है, उसे बिल्कुल न सहें.. 

6. अगर किसी ने आपके लिए कुछ अधिक बुरा कहा है, कोशिश करें कि उसे दोबारा न पढ़ें, ऐसा कुछ करें कि वो आपको दिखे नहीं.. सबसे पहले कदम उन्हें Unfollow करने का हो सकता है, दूसरा कदम उन्हें Unfriend करने का हो सकता है? तीसरा कदम उन्हें ब्लॉक करने का हो सकता है. चौथा कदम उन्हें हर सोशल मीडिया platform से ब्लॉक करना हो सकता है, जब तक आप उसे देखने से रुक नहीं जाते, ये सभी उपाय आज़माए जा सकते हैं.. मेरा काम Unfriend करने से हो जाता है.. पर कई बेहद अज़ीज़ दोस्तों को ब्लॉक तक करना पड़ता है. इसलिए नहीं कि वे बुरे हैं, बल्कि इसलिए कि हम वलनरेबल हैं और अपनी मेंटल पीस के लिए ये करना ज़रूरी है.

7. सफ़ाई देते हुए बदले में कोई पोस्ट ना करें.. अगर किसी ने आपको नीचा दिखाने के लिए पोस्ट की है तो आप भी उन्हें नीचा दिखाने के लिए पोस्ट करने मत लग जाइए.. ये सबसे ख़राब तरीक़ा है.. इससे आप अनावश्यक विवाद में पड़ेंगे...

8. कई बार ट्रोल करने वाला क़द और ओहदे में आपसे बड़े भी हो सकते हैं, तब आपकी स्वाभाविक इच्छा होती है कि आप जवाब दें.. मगर न दें.. क्योंकि कोई बड़ा या छोटा नहीं है.. जैसे आपने किसी एवईं अंजान आदमी को इग्नोर किया है वैसे ही इनको भी करें, नियम बना लें, कान बांध लें, क़सम खा लें.. कितना भी पर्सनल अटैक आप पर किया गया हो, आप एक सिंगल जवाब नहीं देंगे. इस नियम को निर्ममता से मानें.. हर हाल में मानें.. ऐसा करके आप खुद के क़द को बड़ा कर रहे होते हैं. विश्वास रखें कोई भी बड़ा आदमी जो सच में बड़ा आदमी होगा, समझदार होगा, अच्छा इंसान होगा, वो आपको कभी नीचा दिखाने का प्रयास नहीं करेगा.. जो करेगा... वो आपके जवाब डिज़र्व नहीं करता.. अगर सांसद विधायक, प्रोफ़ेसर, अध्यापक, मैनेजर, व्यवसायी या आइटी सेल के नफ़रती चिंटू आपको ट्रोल करें.. याद रखें बदले में कभी भी आपको जवाब नहीं देना है, रिप्लाई नहीं करना है, कमेंट नहीं करना है...

9. अपने आप पर काम करें, अपने स्किल्स पर काम करें, खुद पर भरोसा रखें.. याद रखें सोशल मीडिया पर आपके ख़िलाफ़ लिखे गए शब्द आपकी मेहनत, ईमानदारी के साथ खुद धुल जाते हैं, इसलिए जवाब देकर खुद को परेशान ना करें..

10. कोई मुश्किल घड़ी आ जाए, बहुत बुरा लगे, Demotivated फ़ील हों, कमतर लगें.. उस वक्त हाथ सीने पर रखें.. और कहें “All is well... All will be well...” और बार बार रीपीट करें.. और इस बात का ख़्याल रखें कि आप एक दिन Rock करने वाले हैं.
- लेखक आजतक के पत्रकार हैं

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :