मीडिया Now - कोविड-19 वैक्सीन: कही 'उत्सव' तो कहीं 'चिंता' जानिए इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

कोविड-19 वैक्सीन: कही 'उत्सव' तो कहीं 'चिंता' जानिए इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

medianow 11-04-2021 17:08:13


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वाहन पर जहां एक तरफ देश में कोरोना 'टीका उत्सव' मनाया जा रहा हैं तो वहीं दूसरी तरफ कई राज्य वैक्सीन की कमी की शिकायत कर रहे हैं।‘टीका उत्सव’ मनाने का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा योग्य लोगों का टीकाकरण करना है। ‘टीका उत्सव’ के दौरान उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे कई राज्य लोगों से टीका लगवाने की अपील कर रहे हैं। तो वहीं दूसरी महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे राज्य वैक्सीन की कमी की बात कह रहे हैं। 

कोविड-19 वैक्सीन: कही 'उत्सव' तो कहीं 'चिंता'

1- महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली और झारखंड ने घटते कोरोनोवायरस वैक्सीन स्टॉक के बारे में केंद्र को चेतावनी दी थी। कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी घातक लहर के रूप में रविवार को देशभर में 1.52 लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं। नए मामलों के साथ ही देश में चिकित्सा बुनियादी ढांचे और टीके की मांग जोर पकड़ रही है। 
2- तेलंगाना भी उन राज्यों की लिस्ट में शामिल हो गया है जिन्होंने कोविड-19 वैक्सीन के स्टॉक की कमी के बारे में केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी है। तेलंगाना ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण को लिखा है कि राज्य में वैक्सीन स्टॉक केवल तीन दिनों के लिए ही बचा है।
3- पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र को वैक्सीन के स्टॉक लगभग खत्म होने की सूचना देते हुए पत्र लिखा है। पत्र के अनुसार पंजाब के पास सिर्फ 5 दिनों का वैक्सीन का स्टॉक रह गया है। 
4- राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जानकारी दी है कि उनके पास सिर्फ इतनी ही वैक्सीन बची है कि आने वाले 2 दिनों तक लोगों को टीका लगा सकें। 
5- दिल्ली के पास भी सिर्फ 7 से 10 दिनों का वैक्सीन का स्टॉक बचा है, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह जानकारी दी। आप नेता राघव चड्ढा ने वैक्सीन के स्टॉक खत्म होने पर पीएम मोदी को चिट्ठी लिख अन्य देशों को भेजी जाने वाली वैक्सीन पर रोक लगाने लगाने की अपील की है। 
6- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी लोगों से अपील की है कि ‘टीका उत्सव' के दौरान बड़ी संख्या में वे टीका लगवाएं।
7-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को देश में ‘टीका उत्सव' की शुरुआत की और इसे कोविड-19 के खिलाफ दूसरी बड़ी लड़ाई की शुरुआत बताया। उन्होंने वायरस से मुकाबला करने के लिए जनता को अनेक सुझाव दिए और व्यक्तिगत एवं सामाजिक स्तर पर स्वच्छता पर जोर देने को कहा। 
8- मोदी ने कहा, "आज 11 अप्रैल यानी ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी ‘टीका उत्सव' की शुरुआत कर रहे हैं। यह ‘टीका उत्सव' 14 अप्रैल यानी बाबा साहेब आंबेडकर जयंती तक चलेगा।" उन्होंने एक वक्तव्य में कहा कि जनता इन चार बातों का खासतौर पर ध्यान रखे- ‘ईच वन-वैक्सीनेट वन'', ‘‘ईच वन-ट्रीट वन'', ‘‘ईच वन-सेव वन'' और ‘‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन''।
9- मोदी ने कहा, "टीके की एक भी खुराक व्यर्थ न हो, हमें यह सुनिश्चित करना है। हमें उस दिशा में बढ़ना है जहां एक भी खुराक बेकार न जाए। इस दौरान हमें देश की टीकाकरण क्षमता के सर्वोत्कृष्ट उपयोग की तरफ बढ़ना है। ये भी हमारी क्षमता बढ़ाने का ही एक तरीका है।"
10- केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार आंकड़ो के अनुसार देश में  को कहा कि भारत ने 86 दिन में 10.15 करोड़ से ज्यादा टीके लगाए जा चुके हैं। यह दुनिया का सबसे तेज टीकाकरण अभियान चलाने वाला देश बन गया है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :