मीडिया Now - कोरोना के टूटे सभी रिकॉर्ड, पिछले 24 घंटे में 1.84 लाख हुए पॉजिटिव, एक हजार से अधिक की मौत

कोरोना के टूटे सभी रिकॉर्ड, पिछले 24 घंटे में 1.84 लाख हुए पॉजिटिव, एक हजार से अधिक की मौत

medianow 14-04-2021 10:24:48


नई दिल्ली। देशभर में कोरोना महामारी से  संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। अब रोजाना संक्रमण के नए मामलों का आंकड़ा दो लाख के करीब तक पहुंच गया है। वहीं इस साल पहली बार कोरोना से रोजाना मौत का आंकड़ा हजार के पार गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 184,372 नए कोरोना केस आए और 1027 लोगों की जान चली गई है। हालांकि 82,339 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। इससे पहले सोमवार को 161,736 नए केस आए थे। पिछले साल 2 अक्टूबर को 1069 संक्रमितों की मौत हुई थी।

आज देश में कोरोना की स्थिति-
कुल कोरोना केस- एक करोड़ 38 लाख 73 हजार 825
कुल डिस्चार्ज- एक करोड़ 23 लाख 36 हजार
कुल एक्टिव केस- 13 लाख 65 हजार 704
कुल मौत- 1 लाख 72 हजार 85
कुल टीकाकरण- 11 करोड़ 11 लाख 79 हजार 578 डोज दी गई

पूरे महाराष्ट्र में 15 दिन का कर्फ्यू
महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 60,212 नए मामले सामने आए और 281 लोगों की मौत हो गई। वहीं, राज्य सरकार ने हालात पर गौर करते हुए 14 अप्रैल रात आठ बजे से 15 दिनों का राज्यव्यापी कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। नए मामलों के सामने आने के साथ राज्य में अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 35,19,208 हो गई, जबकि अब तक कुल 58,526 लोगों की महामारी से मौत हो चुकी है।

संक्रमण के मामले चिंताजनक तरीके से बढ़ने के मद्देनजर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत महाविकास आघाडी सरकार ने 14 अप्रैल से 15 दिनों का राज्यव्यापी कर्फ्यू लगाने की मंगलवार को घोषणा की।

अबतक 11 करोड़ टीके दिए गए
देश में 16 जनवरी को कोरोना का टीका लगाए जाने की अभियान की शुरुआत हुई थी। 13 अप्रैल तक देशभर में 11 करोड़ 11 लाख 79 हजार 578 कोरोना डोज दिए जा चुके हैं. बीते दिन 26 लाख 46 हजार 528 टीके लगे। वैक्सीन की दूसरी खुराक देने का अभियान 13 फरवरी से शुरू हुआ था। 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर से सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है। देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.25 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट करीब 89 फीसदी है। एक्टिव केस बढ़कर 9 फीसदी से ज्यादा हो गए। कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का तीसरा स्थान है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :