मीडिया Now - पूरे यूपी में वीकेंड लॉकडाउन का एलान, हर जिले में लगेगा नाइट कर्फ्यू, जरूरी सेवाओं को छूट

पूरे यूपी में वीकेंड लॉकडाउन का एलान, हर जिले में लगेगा नाइट कर्फ्यू, जरूरी सेवाओं को छूट

medianow 20-04-2021 13:35:53


लखनऊ। कोरोना वायरस के बढ़ते संकट के बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब यूपी के सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू लगेगा। इसके अलावा हर शनिवार और रविवार को राज्य में लॉकडाउन रहेगा। इसका मतलब है कि शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह तक प्रदेश में पूरी तरह से तालाबंदी रहेगी। वीकेंड लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश में बेवजह बाहर निकलने पर मनाही होगी, वहीं सिर्फ जरूरी क्षेत्र से जुड़े लोगों को बाहर निकलने की छूट दी जाएगी। 

इसके अलावा कोरोना वैक्सीनेशन, मेडिकल क्षेत्र से जुड़े लोगों को भी छूट दी जाएगी। आपको बता दें कि यूपी सरकार ने इससे पहले भी बीते रविवार को प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन लगाया था। इस रविवार को करीब दस जिलों में लॉकडाउन था, लेकिन अब पूरे प्रदेश में शनिवार-रविवार को लॉकडाउन होगा। यूपी सरकार ने अपने निर्देश में अपील की है कि जहां तक जरूरी हो, घर से बाहर न निकलें। पर्व और त्योहार घर पर ही मनाएं, निकलें तो मास्क जरूर लगाएं। सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ न हो। 

आपको बता दें कि यूपी सरकार का ये फैसला तब आया है, जब बीते दिन इलाहाबाद हाईकोर्ट ने राज्य के पांच शहरों में संपूर्ण लॉकडाउन का निर्देश दिया था. लेकिन राज्य सरकार ने संपूर्ण लॉकडाउन करने से इनकार कर दिया था और सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था. लेकिन अब राज्य सरकार ने सिर्फ वीकेंड लॉकडाउन का निर्देश दिया है. 

प्रवासी मजदूरों के लिए व्यवस्था, कई जिलों में भी बढ़ेंगे बेड्स
उत्तर प्रदेश सरकार ने इस बीच महाराष्ट्र, राजस्थान और दिल्ली से बड़े स्तर पर मजदूरों की वापसी के लिए भी निर्देश दिए हैं। मजदूरों के लिए सीमा पर ही टेस्टिंग की व्यवस्था की जाएगी। राज्य सरकार का कहना है कि कोरोना के ताजा हालात की वजह से लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी,झांसी, गोरखपुर, मेरठ जनपदों सहित प्रदेश के सभी जिलों में कोविड बेड की संख्या को दोगुना करने की आवश्यकता है। फौरी तौर पर सभी जिलों में 200-200 बेड का विस्तार किया जाए। यह बेड ऑक्सीजन की सुविधा से लैस हों। 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :