मीडिया Now - महाराष्ट्र: लॉकडाउन पर सियासत, CM उद्धव ने दिए लागू करने के संकेत तो एनसीपी-बीजेपी ने किया विरोध

महाराष्ट्र: लॉकडाउन पर सियासत, CM उद्धव ने दिए लागू करने के संकेत तो एनसीपी-बीजेपी ने किया विरोध

medianow 30-03-2021 15:55:13


मुंबई। देश के कई राज्यों में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए हर कोई चिंतित है। खासकर कोरोना के सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र से सामने आ रहे हैं जो महाराष्ट्र की उद्धव सरकार के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। दरसअल महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो गई है। जिसकी वजह से संपूर्ण लॉकडाउन की संभावनाएं भी बढ़ रही हैं। बीते सोमवार को  मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लॉकडाउन के संकेत दिए थे, लेकिन अब इसके खिलाफ आवाज़ उठने लगी है।

दरअसल, महाराष्ट्र में पिछले एक सप्ताह में ही एक लाख से अधिक कोरोना केस सामने आ चुके हैं, ऐसे में कई जिलों ने अपने स्तर पर पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया है। महामारी के इस  संकट को देखते हुए सूबे के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्यों के अधिकारियों को पूर्ण लॉकडाउन के ऑप्शन खुले रखने के निर्देश दिए थे। उद्धव का कहना था कि राज्य में लोग गाइडलाइन्स का पालन नहीं कर रहे हैं।

NCP ने की दूसरे विकल्पों की मांग
एनसीपी कोटे से मंत्री नवाब मालिक ने कहा है कि, "महाराष्ट्र और एक लॉकडाउन बर्दाश्त नही कर सकता। हमनें सीएम को अन्य विकल्पों पर विचार करने की मांग की है। अगर लोग लापरवाही ना बरतें तो लॉकडाउन टाला जा सकता है।" इस बयान के बाद साफ है कि MVA सरकार में लॉकडाउन को लेकर मतभेद बने हुए है। सीएम की बैठक में एनसीपी कोटे से डिप्टी सीएम अजित पवार और स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे भी शामिल रहे। बावजूद उसके पार्टी के स्तर पर एनसीपी लॉकडाउन के खिलाफ खड़ी दिख रही है। ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है की क्या लॉकडाउन के चलते लोगों मे बढ़ते रोष से एनसीपी बचना चाह रही है।

भाजपा भी खिलाफ
उधर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भी लॉकडाउन के खिलाफ है महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा है की लॉकडाउन ये कोई सही फैसला नहीं होगा इसका सबसे ज्यादा नुकसान रोज कमाकर खाने वाले गरीब लोगों को मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

आनंद महिंद्रा ने भी जताई असमति
उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी ट्वीट कर उद्धव सरकार के लॉक डाउन के निर्णय पर आपत्ति जताई है। महिंद्रा ने सलाह दी है कि, "लॉकडाउन से गरीब, मजदूर और छोटे व्यापरियों पर गहरा असर पड़ता है। हमनें पहले लॉकडाउन लगाया ताकि हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा कर सके। हमें उसी पर फोकस करते हुए मृत्यु दर घटाने पर जोर देना चाहिए।" साथ ही चितले ग्रुप्स के पार्टनर इंद्रनील चितले ने ट्वीट के माध्यम से तंज कसा है कि, "वजन घटाने के लिए जो ग्रीन टी काम करता है, वही कोविड को घटाने के लिए नाइट कर्फ्यू करेगा।"

सीएम ठाकरे कर सकते हैं बैठक
जानकारी के मुताबिक सीएम उद्धव ठाकरे आज अधिकारियों से बात कर सकते है, जिसमें इकोनॉमी और मजदूरों को चोट पहुचाए बिना लॉकडाउन लगाने पर चर्चा होगी। साथ ही लॉकडाउन की SOP's तय की जा सकती है, जिससे दो अप्रैल के बाद लागू करने की तैयारी है।

महाराष्ट्र में बेकाबू हो रहा कोरोना
बता दें महाराष्ट्र में सोमवार को 31,643 कोरोना केसेस और 102 मौते दर्ज हुई है। तो वही मुंबई में 5890, पुणे में 4972 और नागपुर में 3243 नए केसेस पाए गए। पिछले महीनेभर में महराष्ट्र ने लगभग 6 लाख केस और 2100 मौतें दर्ज हुई हैं।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :