मीडिया Now - खामोश!

खामोश!

medianow 27-04-2021 10:45:55


वीर विनोद छाबड़ा / खामोश! ये हम नहीं कह रहे हैं. शत्रुघ्न सिन्हा उर्फ़ शॉटगन का तकिया क़लाम है. बल्कि अब तो 'सिग्नेचर' है. वो जहाँ भी जाते हैं, पब्लिक डिमांड करती है और शॉटगन एक खास अंदाज़ में कहते हैं - खामोश! और पब्लिक ताली बजाती है. उनका ये सिग्नेचर देश-विदेश में भी मशहूर है, पड़ोसी पाकिस्तान में भी. उनकी एक्ट्रेस बेटी सोनाक्षी सिन्हा से भी एंटरटेनिंग प्रोग्राम्स में पब्लिक ऐसी ही अपेक्षा करती है. लेकिन आपको ये जानकार हैरानी होगी कि ये सिग्नेचर शत्रु का अपना नहीं है, उधार का है. के.आसिफ की 'मुगल-ए-आज़म' याद करें.

अकबर का किरदार कर रहे पृथ्वीराज कपूर जब गुस्सा होते थे तो बा-आवाज़-ए-बुलंद चिंघाड़ते थे - खामोश! शत्रु ने पूना फिल्म इंस्टिट्यूट में ट्रेनिंग के दौरान अपने साथियों के बीच पृथ्वीराज कपूर के इस अंदाज़ की मिमिक्री करते हुए खूब वाहवाही लूटी. इसमें वो धीरे-धीरे इतने माहिर हो गए कि अपना एक अलग अंदाज़ विकसित कर लिया. हालांकि शत्रु ने कभी पब्लिकली इस सच को उजागर नहीं किया है, लेकिन अच्छी और ईमानदारी की बात ये है कि उनकी बायोग्राफी 'एनीथिंग बट खामोश' में इस सच का ज़िक्र है.
- लेखक एक नामी फिल्म समीक्षक हैं

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :