मीडिया Now - उत्तराखंड: कोविड एक्टिव मरीज 43032, मिली 7500 रेमडेसिविर, तीन उदाहरण से खुल रही है व्यवस्था की पोल

उत्तराखंड: कोविड एक्टिव मरीज 43032, मिली 7500 रेमडेसिविर, तीन उदाहरण से खुल रही है व्यवस्था की पोल

medianow 28-04-2021 11:42:22


देहरादून। सरकारी तंत्र ने गत रात सूचना दी कि उत्तराखंड में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के विशेष प्रयासों के बाद प्रदेश को  7500 रेमडेसिविर इंजेक्शन प्राप्त हो गए हैं। उत्तराखंड में बढ़ते कोरोना के मरीजों के बीच स्वास्थ्य व्यवस्थाएं ध्वस्त होती जा रही हैं। दावों और हकीकत में जमीन आसमान का अंतर है। अस्पतालों मे बेड नहीं है। ऑक्सीजन के लिए लोग एक दूसरे को मैसेज करके जानकारी ले रहे हैं। कोरोना टेस्टिंग के लिए दिए गए निजी लैब के नंबर या तो उठ नहीं रहे हैं। यदि उठाए जा रहे हैं तो दो से तीन दिन बाद लोगों का नंबर आ रहा है। वहीं, इस बीच राहत भरी खबर ये है कि 27 अप्रैल की देर रात स्टेट प्लेन से 7500 रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप देहरादून पहुंच गई है। हालांकि इस वक्त प्रदेश में 43032 एक्टिव मरीज हैं।

सरकारी तंत्र ने गत रात सूचना दी कि उत्तराखंड में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के विशेष प्रयासों के बाद प्रदेश को  7500 रेमडेसिविर इंजेक्शन प्राप्त हो गए हैं। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के निर्देशों पर कल सुबह ही स्टेट प्लेन को अहमदाबाद भेजा गया था। राज्य सरकार का यह विशेष विमान रेमडेसिविर इंजेक्शन की खेप लेकर देर रात तक उत्तराखंड पहुँच गया। अब प्रदेश में अब अगले कुछ दिनों तक रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत नहीं होगी। अहमदाबाद से इस खेप के आ जाने के बाद कोविड 19 संक्रमण के बाद इलाज में इस्तेमाल किए जाने वाले रेमडेसिविर इंजेक्शन का पर्याप्त कोटा प्रदेश के पास हो जाएगा। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए है कि सभी जिलों में रेमडेसिविर इंजेक्शन के खपत और अनुपात तय करते हुए पर्याप्त मात्रा में रेमडिसिविर इंजेक्शन भेज दिए जाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से जूझ रहे किसी भी प्रदेशवासी को रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी ना हो। बीते 72 घंटों में उत्तराखंड में लगभग 11 हजार रेमडिसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति हो गई है। बीते शनिवार को भी उत्तराखंड में 3500 रेमडिसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति हुई थी। अगले 24 घंटों में उत्तराखंड को 2000 रेमडिसिविर इंजेक्शन की और आपूर्ति हो जाएगी।

क्या है रेमडेसिविर
कोरोना की वजह से फेफड़ों में संक्रमण होता है और फिर मरीज को निमोनिया हो जाता है। रेमडेसिविर इंजेक्शन फेफड़े के इंफेक्शन से बचाता है। फेफड़े में संक्रमण के आधार पर रेमडेसिविर के इंजेक्शन दिए जाते हैं। ज्यादा गंभीर स्थिति में एक मरीज को छह इंजेक्शन तक लगाने पड़ते हैं। ऐसे में इसकी मांग बहुत ज्यादा है और आपूर्ति उस अनुरूप नहीं है। ऐसे में इसकी जमाखोरी व कालाबाजारी भी चरम पर है।

अस्पताल की व्यवस्था 
एक महिला बीमारी का किसी अस्पताल में इलाज करा रही थी। उसे कोरोना टेस्ट कराने को कहा। पाजिटिव आया तो तमाम अस्पताल में इलाज करने से मना कर दिया। मामला देहरादून का है। परिजनों ने बेड के लिए कई अस्पतालों में ट्राई किया। पोर्टल में बेड दिखा रहा था। अस्पताल वाले मना कर रहे थे। बैंक यूनियन के प्रांतीय संयोजक समदर्शी बड़थ्वाल का कहना है कि किसी तरह आग्रह करने के बाद महंत इंदिरेश अस्पताल ने अगले दिन बेड खाली होने की बात कही। तब तक महिला का निधन हो गया।

टेस्टिंग का उदाहररण
यही नहीं उन्होंने बेटे सहित खुद का का कोरोना टेस्ट कराने के लिए प्राइवेट लैब में फोन किया। एक व्यक्ति तीन दिन बाद आया। फिर सिर्फ एक का ही सैंपल ले गया। बोला कि एक दिन में उनकी लैब दस सैंपल रुड़की भेजती है। उससे ज्यादा सैंपल उनकी लैब के नहीं लेते। उसके दस सैंपल पूरे हो गए हैं। अब बाकी लोगों का तीन दिन बाद नंबर आएगा।

रिपोर्ट में भी धांधली
टैस्ट रिपोर्ट जब आई तो इसमें बेटे को निगेटिव बताया गया। वहीं, स्वास्थ्य विभाग की ओर से उन्हें फोन आया और बताया कि आप कोरोना पॉजिटिव हो। पूछा गया कि आपके घर कोरोना किट पहुंची या नहीं। अब इस पर वे भी परेशान हैं। जो रिपोर्ट आई उस पर यकीन करें या फिर विभाग के फोन पर।

उत्तराखंड में कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड
उत्तराखंड में कोरोना का कहर जारी है। मंगलवार 27 अप्रैल की शाम स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट ने अब तक के कोरोना के एक दिन के सारे आंकड़े तोड़ दिए। 5703 नए संक्रमित मिले और 96 लोगों की 24 घंटे में कोरोना से मौत हुई। इसी माह अप्रैल में ये तीसरी बार है कि जब एक दिन में पांच हजार से ज्यादा संक्रमित मिले। इससे पहले सोमवार 26 अप्रैल को 5058 नए संक्रमित मिले। वहीं, 67 लोगों की मौत हुई थी और 1601 लोग स्वस्थ हुए। रविवार को 4368 नए केस दर्ज किए गए थे और 44 लोगों की कोविड-19 से मौत हुई थी। इससे पहले शनिवार 24 अप्रैल को 5084 नए संक्रमित मिले थे और 81 लोगों की कोरोना से मौत हुई थी।

मंगलवार को 1471 लोग कोरोना से स्वस्थ हुए। वर्तमान में कुल एक्टिव केस 43032 हैं। वहीं, अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 162562 हो गई है। इनमें से 113763 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं, अब तक 2309 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

सर्वाधिक संक्रमित देहरादून में, हरिद्वार दूसरे नंबर पर
कोरोना का कहर देहरादून और हरिद्वार में सर्वाधिक है। देहरादून में 2218 नए संक्रमित मिले, वहीं, हरिद्वार में 1028 नए संक्रमित मिले। नैनीताल में 848, उधमसिंह नगर में 397, उत्तरकाशी में 242, टिहरी गढ़वाल में 204, पौड़ी में 132, चमोली में 214 और अलमोड़ा में 189 संक्रमित मिले। उधर आज 601 केंद्र में 39180 लोगों को टीके लगाए गए।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :