मीडिया Now - फेसबुक से हैशटेग #ResignModi हटाने के लिए नहीं कहा, रिपोर्ट भ्रामक और शरारतपूर्ण: केंद्र सरकार

फेसबुक से हैशटेग #ResignModi हटाने के लिए नहीं कहा, रिपोर्ट भ्रामक और शरारतपूर्ण: केंद्र सरकार

medianow 29-04-2021 14:17:07


नई दिल्ली। भारत में कोरोना के लगातार बढ़ते केस और हालात पर काबू नहीं पाने की वजह से केंद्र सरकार लोगों के निशाने पर है। इसी के मद्देनजर केंद्र के कहने पर फेसबुक से विवादित हैशटैग हटाने से जुड़ी अमेरिका मीडिया वॉल स्ट्रीट जरनल की रिपोर्ट का सरकार ने खंडन किया है। सरकार ने कहा कि पोर्टल की रिपोर्ट पूरी तरह से भ्रामक है और गलत इरादे से पेश की गई है। सरकार ने ऐसे किसी भी हैशटैग को हटाने के लिए निर्देश जारी नहीं किए थे।  

सरकार की ओर से एक बयान में कहा गया है, 'वॉल स्‍ट्रीट जर्नल की स्‍टोरी में यह कहा जाना कि कुछ खास हैशटैग को सार्वजनिक असंतोष को रोकने के लिए भारत सरकार के कहने पर फेसबुक ने हटाया, पूरी तरह से तथ्‍य से गुमराह करने वाला और शरारतपूर्ण प्रयास है. 'इसमें कहा गया है, 'सरकार ने इस हैशटैग को हटाने के लिए कोई निर्देश जारी नहीं किया.

फेसबुक ने भी यह स्‍पष्‍ट किया है कि इसे गलती से हटा दिया गया,' सरकार ने वॉल स्‍ट्रीट जर्नल की 5 मार्च की रिपोर्ट का उल्‍लेख करते हुए इसे पूरी तरह से फर्जी और 'निर्मित' की गई है. बयान में कहा गया है, 'यह भी उल्‍लेख करना उचित होगा कि वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने 5 मार्च 2021 को एक फर्जी रिपोर्ट, 'भारत ने फेसबुक, व्‍हाट्सएप और ट्विटर कर्मचारियों को जेल में भेजने की धमकी दी (India Threatens Jail for Facebook, Whatsapp and Twitter Employees)' हैडिंग से प्रकाशित की थी.

सरकार ने इस 'फेक' और पूरी तरह से 'गढ़ी गई' स्‍टोरी को लेकर वॉल स्‍ट्रीट जर्नल को आधिकारिक तौर पर खंडन भेजा था.हमारे फ्रंट लाइन वर्कर्स और मेडिकल प्रोफेशनल्‍स के प्रयासों को पेश करने में मीडिया का अहम रोल रहा है. इस तरह के संवेदनशील समय में हम मीडिया से अपील करते हैं कि वह करोड़ों आम भारतीयों के साथ जुड़े और इस महामारी के खिलाफ मिलकर लड़े.'' 
 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :