मीडिया Now - कोरोना से पिता की मौत, 8 साल की बेटी को नहीं आया समझ, कॉल आने पर कहा- 'पापा सो रहे हैं'

कोरोना से पिता की मौत, 8 साल की बेटी को नहीं आया समझ, कॉल आने पर कहा- 'पापा सो रहे हैं'

medianow 29-04-2021 20:45:06


पटना। कोरोना संक्रमण की वजह से लोगों की मौत का सिलसिला जारी है. रोजाना कई लोगों की जान जा रही है. कितनों की तो घर में ही मौत हो जा रही है. ऐसा ही एक मामला सूबे की राजधानी पटना में सामने आया है. जहां शख्स की घर में ही कोरोना से मौत हो गई. लेकिन मृतक की 8 साल की बेटी हो कुछ समझ नहीं आया. वो पूरी रात अपने पापा के साथ सोई रही.

कॉल आने पर कही ये बात
अगले दिन जब मृतक के दोस्त ने कॉल कर बात कराने को कहा तो बच्ची ने कहा कि पापा सो रहे हैं. ये सुनकर दोस्त ने वीडियो कॉल किया, तब जा कर पूरे मामले का खुलासा हुआ. घटना पटना के रामकृष्णा नगर के एनटीपीसी कॉलोनी के पीछे स्थित मधुबन कॉलोनी रोड नंबर-5 की है. मृतक की पहचान 40 वर्षीय प्रभात कुमार के रूप में की गई है, जो किराए के मकान में अपनी बेटी के साथ रहता था और दुकान चलाता था.

मृतक मूल रूप से बिहार के नालंदा जिले के इस्लामपुर का रहने वाला था. उसकी पत्नी अपने मायके बिहटा में रहती है. पत्नी की प्रभात से अनबन चल रही थी. मिली जानकारी अनुसार तीन दिन पहले जब प्रभात अपने दुकान पर नहीं गया, तब उसके दोस्त राजेश ने उसे फोन किया. प्रभात ने बताया कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है. बुखार है और सांस लेने में परेशानी भी हो रही है. इस पर दोस्त ने उन्हें आराम करने की सलाह दी. 

वीडियो गेम खेल रही थी बच्ची
इसी क्रम में बुधवार की सुबह बच्ची जब मोबाइल पर वीडियो गेम खेल रही थी, तभी दोस्त ने फोन किया और पापा से बात कराने को कहा तो बच्ची ने कहा, " पापा सो रहे हैं." यह सुनते ही उसने वीडियो कॉल कर कहा दिखाओ पापा कैसे सो रहे हैं. जब बच्ची ने वीडियो कॉल के जरिए दूसरे व्यक्ति को दिखाया कि तब जाकर पूरे मामले का खुलासा हुआ.

पुलिस की टीम ने कराया अंतिम संस्कार
घटना की सूचना पाकर प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और मृतक को कोरोना पॉजिटिव मानकर कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार कराया. बच्ची को मां की अनुपस्थिति में फिलहाल मकान मालिक को सौंप दिया गया है. बच्ची की भी कोरोना जांच कराई जाएगी, जिसके बाद उसे परिजनों के हवाले किया जाएगा. 

मृतक के अंतिम संस्कार में मकान मालिक भी घाट पर गए थे. ऐसा माना जा रहा है कि प्रभात की मौत मंगलवार की रात ही हो गयी थी, लेकिन इस बात से बच्ची बेखबर थी और रात भर अपने पिता से लिपट कर सोती रही. उसे जरा भी एहसास नहीं हुआ की उनके पिता उसे छोड़कर चले गए हैं.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :